भारत में अपने सबसे पसंदीदा बी स्कूलों का चयन करते समय गौर करने योग्य महत्वपूर्ण बातें

profile Catgories MBA
Pro-banner

आज की तारीख में एमबीए एक ऐसा कोर्स बन गया है जो हर फील्ड के स्टूडेंट्स को लुभाता है चाहे उनका बैकग्राउंड किसी भी स्ट्रीम से जुड़ा हो। वह साइंस, कॉमर्स या फिर ऑर्ट्स का भी हो सकता है। लेकिन एमबीए करने के लिए एक अच्छे बिजनेस स्कूल का चुनाव करना एक कठिन कार्य है। भारत में कई ऐसे कॉलेज और यूनिवर्सिटीज हैं जो ग्लोबल स्टैण्डर्ड के अनुरूप एक बेहतरीन बिजनेस एजूकेशन प्रदान कर रही हैं। आप एमबीए के बाद होने वाले फायदों को नकार नहीं सकते हैं। विशेषकर किसी टॉप कॉलेज से एमबीए करने के बाद उससे मिलने वाले फायदे और प्लेसमेंट।

बदलते वक्त के साथ मैनेजमेंट के कोर्स में भी काफी बदलाव आ गया है। और इसने ज्यादा आकर्षक  और सुनहरे रास्ते खोल दिए हैं। हर वर्ष होने वाली कैट एग्जाम में युवाओं की दौड़ बताती है कि बड़ी संख्या में युवा कॉर्पोरेट वर्ल्ड का हिस्सा बनना चाहते हैं। बेशक इसकी मूल वजह आकर्षक सैलेरी पैकेज है, लेकिन आज मैनेजमेंट इतना डाइवर्स हो चुका है कि हर फील्ड, हर सेक्टर में मैनेजर की जरूरत बढ़ने लगी है। एमबीए के बेस्ट बिजनेस स्कूलों का चुनाव करते समय जो मापदंड एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं उनका वर्णन हम नीचे दिए कारकों के माध्यम से कर रहे हैं:

1. आपके करियर का लक्ष्य- एमबीए करने के बाद करियर के प्रति आगे आपका क्या लक्ष्य है? आप एमबीए क्यों कर रहे हो? क्या आप किसी ऐसे खास क्षेत्र में कार्य करने के लिए तैयार हैं, जहां आपको लगता है कि बदलाव होना चाहिए? अपनी एमबीए जर्नी शुरू करने से पहले आपको खुद से ये सवाल करने चाहिए।

2. रैंकिंग - जिस कॉलेज का आप चुनाव करने जा रहे हैं वह भारत के टॉप बिजनेस स्कूलों में से एक होना चाहिए। कई ऐसे मापदंड है जिनका पालन करने की जरूरत हर बिजनेस स्कूल को होती है। विभिन्न न्यूज पेपर्स  और मैगजींस में ऐसे बिजनेस स्कूलों की रैंकिंग की सूची उनके इन्फ्रास्ट्रक्चर, शिक्षकों, ब्रांड छवि, पूर्व छात्रों और प्लेसमेंट, आदि के आधार पर प्रकाशित होते रहती है।  इस सूची का विश्लेषण करें और यह देखें कि क्या यह आपकी आवश्यकता को पूरा करता है ?

3. एलुमनि नेटवर्क - पुराने छात्रों को मिल रहा प्लेसमेंट आपके लिए बेंचमार्क होना चाहिए। ऐसे छात्रों से मिलने की कोशिश करे जो उस संस्थान से पास आउट हो, इससे आपको संस्थान के बारे में वास्तविक जानकारी मिलेगी। वर्तमान में जो छात्र उस संस्थान में पढ़ाई कर रहे हैं उनसे संपर्क करने की कोशिश करें, वो आपको एमबीए प्रोगाम के बारे में एक बेहतर जानकारी प्रदान कर सकते हैं।

4. मान्यता - बिजनेस स्कूल का चुनाव करते समय उसकी मान्यता पर ध्यान देना महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक है। भारत में कई ऐसे बिजनेस स्कूल हैं जिन्हें अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आधिकारिक मान्यता प्राप्त है। उदाहरण के लिए आईआईएम अहमदाबाद। यह पहला ऐसा संस्थान है जिसे यूरोपीयन फाउंडेशन फॉर मैनेजमेंट डेवलपमेंट द्वारा ईक्यूयूआईएस मान्यता प्राप्त है। यह संस्थान राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय एक्सपोजर देने की दिशा में प्रयासरत है।

5. सिलेबस  - क्या कॉलेज टीचिंग के लिए ट्रेडिशनल  मॉड्यूल अपना रहा है या वह इसके लिए नए इनोवेटिव आईडियाज, जैसे- एक्सपेरिमेंटल एकसरसाइज और अन्य डिस्कशन पर जोर दे रहा है? जिस कालेज में आप एडमिशन लेना चाह रहे हैं उसमें विषयों की एक विस्तृत श्रृंखला की जानकारी के साथ बिजनेस नॉलेज से संबधित साउंड बेस भी शामिल होना चाहिए। ये सभी बातें अंत में आपको एक सफल एमबीए स्नातक का दर्जा प्राप्त करने में सहायक होंगी ।

6. फैकेल्टी- किसी भी छात्र की सफलता के पीछे उसके शिक्षक की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। एक छात्र के जीवन में शिक्षक की भूमिका को नजरदांज नहीं किया जा सकता है।  इसलिए, ऐसे एमबीए कॉलेज का चुनाव करें जिसमें बेस्ट फैकेल्टी और गेस्ट लेक्चरर हों। ऐसे फैकेल्टी वाले कॉलेज देखें जहां के शिक्षक पहले से ही बिजनेस फील्ड से अनुभव रखते हों l अगर ऐसा होता है तो आपको 2 वर्षीय एमबीए पाठयक्रम को शानदार तरीके से पूरा करने में मदद मिलेगी।

7. कॉलेज का नाम - कॉलेज के नाम का आपके करियर पर एक बड़ा प्रभाव पड़ता है। बेहतर ब्रांड, शानदार वैल्यू से आपकी एमबीए की डिग्री और महत्वपूर्ण हो जाती है।  कई ऐसी नौकरियां और प्रोग्राम  होते हैं जिनमें स्पष्ट रूप से यह वर्णन रहता है कि वे उऩ्हीं कालेजों से छात्रों को हायर करेंगे जो टॉप 10 बिजनेस स्कूलों से ताल्लुक रखते हों। इसलिए यदि आप फॉर्च्यून 500 कंपनियों के लिए कार्य करना चाहते हैं तो बुद्धिमानी से अपने कॉलेजों का चयन करें।

8. स्पेशलाइजेशन  - क्या आप सामान्य एमबीए करना चाहते हैं या किसी विशेष फील्ड में स्पेशलाइजेशन हासिल करना चाहते हैं? या आप ऐसे कॉलेज देख रहे हैं जो वैकल्पिक कोर्स  ऑफर करते हैं? चूंकि आप अपनी एमबीए डिग्री के लिए महत्वपूर्ण समय, धन और संसाधनों को खर्च करने जा रहे हैं, इसलिए हर चीज का चुनाव करते समय सावधानी बरतें। स्पेशलाइजेशन एमबीए प्रोग्राम उन लोगों के लिए परफेक्ट है जो मार्केटिंग, ऑपरेशन, और वित्त जैसे क्षेत्रों में विशेष क्षमता हासिल करना चाहते हैं।

9. प्लेसमेंट के अवसर - जब सही बिजनेस स्कूल के चुनाव की बात आती है तो इसके कैंपस प्लेसमेंट में नियोक्ताओं द्वारा दिए जाने वाला सैलरी पैकेज एक महत्वपूर्ण कारकों में शामिल रहता है। क्योंकि एमबीए की पढ़ाई के दो वर्षों के दौरान छात्र काफी मात्रा में एक बड़ी राशि अपने स्टडी पर खर्च करते हैं इसलिए प्लेसमेंट एक महत्वपूर्ण फैक्टर बन जाता है। आईआईएम अहमदाबाद ने रिपोर्टिंग स्टैंडर्ड सेट किया है जिसे इंडियन प्लेसमेंट रिपोर्टिंग स्टैंडर्ड्स (आईपीआरएस) कहा जाता है। आप इंडस्ट्री स्टैण्डर्ड के अनुसार रिपोर्ट का विश्लेषण कर सकते हैं।

10. प्रवेश परीक्षा में कट ऑफ स्कोर – टॉप  बिजनेस स्कूल भी सर्वश्रेष्ठ छात्रों को अपने कॉलेज में एडमिशन देना चाहते हैं। क्योंकि छात्रों के बल पर ही कॉलेज  की प्रतिष्ठा या ब्रांड वाली छवि बनती है। इससे छात्र और कॉलेज दोनों को शैक्षणिक और करियर से संबंधित लाभ होता है। इसलिए, बिजनेस स्कूलों में एक कट-ऑफ पर्सेंटाइल छात्रों की क्वालिटी का एक बेहतर संकेत है।

11. फी स्ट्रक्चर - किसी भी सरकारी / सरकारी सहायता प्राप्त/ प्राइवेट / प्राइवेट ट्रस्ट आदि जो स्कूल का मैनेजमेंट कर रहे हैं वहां फीस भी एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है। दूसरी तरफ आईआईएम एक स्वायत्त संस्था है जो फीस और कंसल्टेशन के माध्यम से अपना रिवेन्यु  स्वयं पैदा करती हैं। यही कारण हैं कि उनकी उनकी फीस किसी भी अन्य स्कूल की तुलना में अधिक रहती है।

नीचे हम ब्रांड नेम, पिछले अनुभव, फीस, प्लेसमेंट, स्टूडेंट/एलुमनी फीडबैक, स्ट्रक्चर और शिक्षकों की गुणवत्ता के आधार पर टॉप 10 स्कूलों का वर्णन कर रहे हैं:

रैंक

संस्थान का नाम

स्थान

1.        

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (आईआईएम-ए)

अहमदाबाद

2.        

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (आईआईएम-सी)

कोलकाता

3.        

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (आईआईएम-बी)

बैंगलुरू

4.        

जेवियर इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (एक्सएलआरआई)

जमशेदपुर

5.        

एस.पी.जैन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड रिर्सच (एसपीजेआईएमआर)

मुंबई

6.        

मैनेजमेंट डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट (एमडीआई)

गुडगांव

7.        

फैकेल्टी ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज (एफएमएस)

नई दिल्ली

8.        

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (आईआईएम-के)

कोझीकोड़

9.        

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (आईआईएम-आई)

इंदौर

10.    

इंटरनेशनल मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट (आईएमआई)

नई दिल्ली

Add Comment